top of page
  • Writer's pictureRaginee K

Travel & Women of Bharat | यात्रा और भारतीय महिलायें

Updated: Apr 9, 2023

यात्रा करने के कारण हमें एक अवसर मिलता है जिससे हम सीख सकते है और उसी के साथ ही अपने अंदर झांक सकते है । महिला यात्रियों के लिए, यह दैनिक जीवन और संस्कृति पर एक अनूठा दृष्टिकोण प्रस्तुत कर सकता है।


Travelling can be an incredible opportunity to explore, learn, and reflect. For female traveler, it can offer a unique perspective on daily life and culture.

A Gond lady building house - Kanha National Park region

घर बनाते एक गोंड महिला - कान्हा राष्ट्रीय उद्यान परिसर


न केवल गंतव्यों पर ( टुरिस्ट प्लेसेस पर ) जाना बल्कि अन्य महिलाओं और लड़कियों से मिलना भी विभिन्न चीजों पर गपशप करनेका का मौका प्रदान कर सकता है। मुझे आमतौर पर मिट्टी के घरों, बर्तनों, साड़ियों या गहनों के बारे में अधिक जानना अच्छा लगता है। भारत में, विविध प्रकार की संस्कृतियाँ हैं जो नए रुझानों ( ट्रेंड्स ) के लिए अतिसंवेदनशील हैं, लेकिन भारतीय महिलाएं अक्सर आधुनिक तत्वों को अपने पारंपरिक तरीके से जोड कर अपना लेती है । और यह मुझे बहुत आकर्षित करता है।


Not only visiting destinations but meeting other women and girls can provide a chance to bond over various things. I usually love to know more about mud houses, clay pots, sarees or jewelry. In Bharat, there is a diverse range of cultures that are susceptible to new trends, but Bharatiya women often integrate modern elements in their own traditional way and that fascinates me a lot.

Beautiful mud house - Bandhavgadh National Park region

एक सुंदर मिट्टी का घर - बांधवगढ राष्ट्रीय उद्यान परिसर

इस सर्दी में हमने मध्य भारत, मुख्य रूप से मध्य प्रदेश जैसे बांधवगढ, कान्हा, मंडला और बालाघाट का दौरा किया। हमारे लिये ये आश्चर्यकारक रुपसे बहुत ही आनंददायी था। यह अपने आदिवासी और वन क्षेत्रों के लिए जाना जाता है, जो स्वच्छ पानी, हवा और भोजन से समृद्ध हैं।


This winter we visited Central Bharat mainly Madhya Pradesh region like Bhandhavgadh, Kanha , Mandla & Balaghat. And it was a total surprise. It is known for its tribal and forest regions, which are blessed with clean water, air, and food.

Three ladies waiting for the bus to go back home - Mandla region

बस कि राह देखती हुई तीन महिलायें - मंडला परिसर


जीवन जीने की गति पूरी तरह से स्वाभाविक थी और जीने के एक अलग तरीके में एक दृष्टी प्रदान करती थी। लोगों ने उनसे और उनके जीवन के तरीके से सीखने का एक अनूठा अवसर प्रदान किया जो प्रकृति के साथ तालमेल बिठाता था।


The pace of living life was completely natural and provided a window into a different way of living. The people offered a unique opportunity to learn from them, and their way of life that was in sync with nature.

A lady waiting for the auto - Bandhavgadh National Park region

ऑटो कि राह देखती हुई महिला - बांधवगड राष्ट्रीय उद्यान


मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि एक यात्री को केवल तस्वीरें लेने के बजाय कम खोजी गई जगहों का चयन करना चाहिए और उन लोगों से जुड़ना चाहिए जिनसे वे सफरमे मिलते हैं। इन यात्राओं से प्राप्त अनुभव भविष्य में उपलब्ध नहीं हो सकते हैं, इसलिए यह आवश्यक है कि जब मौका मिले उसका फायदा लेकर अपना देश घुमना चाहिये और उसकी सराहना की जाए।


I personally feel a traveler should choose less explored places and genuinely connect with the people they meet, rather than just taking pictures. The experiences gained from these journeys may not be available in the future, so it's essential to appreciate them while they last.

A smiling lady in her beautiful house - Bandhavgadh National Park region

अपने घरमे खडी एक उत्साही और खुश महिला - बांधवगड राष्ट्रीय उद्यान


मध्य प्रदेश के आदिवासी और वन क्षेत्रों कि यात्रामें लोग खुले दिलसे स्वागत कर रहे थे। वे मासूम हैं और फोटो के लिए पोज देने को तैयार हैं। हमे कहीं पर भी जाकार लोगोंसे बात करना अच्छा लगता है । वो हमे बहोत कुछ सिखाते है जो किताब नहीं दे सकती ।एक निर्धारित मार्ग के बजाय जहां भी जाना हो वहां जानेका मन करे हम गाडी वहा मोड लेते थे । हम जिन महिलाओं से मिले उनमें से अधिकांश ने हमें अपने घरों में आमंत्रित किया। भोजन कराया और अपना घर दिखाया। उन्हे अपने सुंदर घरोंका सार्थ अभिमान था ।


उनके खेतों के पास बड़े और साफ-सुथरे मकानों में रहना मेरे लिए विलासिता की बात थी। खुले आसमान के नीचे रोज सोना वाकई बहुत अच्छा लगता होगा। उनका दैनिक जीवन निश्चित रूप से कठिन था लेकिन मैंने कभी निराश चेहरों को नहीं देखा। बल्कि लगभग हर कोई हमारी यात्रा को जानने के लिए खुश और उत्सुक था।


People in the tribal and forest regions of Madhya Pradesh were open and welcoming to travelers. They are innocent and willing to pose for photos. We spent lot of time in random chat. Going wherever we felt to go instead of a set route. Most of the women we met invited us into their homes. Offered food and showed their houses.


For me it was a luxury to live in big and clean houses nearby their farms. It must be really nice to sleep under the open sky. Their daily life was definitely tough but I never saw disappointed faces. Rather almost everyone was happy and curious to know our journey.

A tribal lady in market - Kanha National Park region

बाजार और आदिवासी महिला - कान्हा राष्ट्रीय उद्यान


हमें एक स्थानीय मेला देखने, स्थानीय व्यंजन खाने और नृत्य देखने का मौका मिला। छोटी लड़कियाँ और यहाँ तक कि महिलाएँ भी अपने लिए कुछ साड़ी या सौंदर्य प्रसाधन खरीदकर बहुत खुश थीं। उनकी खुशी छोटी चीजों में थी। उसके लिए वे आसपास के गांवों से आए थे और तपती दोपहर में भी चमक रहे थे।


We had a chance to witness a local fair , eat local delicacies, see the dance. Little girls and even ladies were pretty happy to buy some saree or cosmetics for themselves. Their happiness was in little things. For that they came from surrounding villages and were shining even in the hot afternoon.

Mother and daughter spending good time together - Satana region

संध्या समय और मा बेटी - सतना परिसर


कई छोटे शहरों में सड़क के किनारे की दुकानों पर महिलाओं का बोलबाला था जो अपना सामान जैसे सब्जियां, किराना सामान, आभूषण बेचना, दर्जी की दुकान चला रही थीं। किसी भी अन्य गांव की तरह हर कोई उत्साहित था क्योंकि सप्ताह में यही एक दिन होता है जब हर कोई कुछ न कुछ होता हुआ देख सकता है। अन्यथा ग्रामीण क्षेत्रों में जीवन बहुत सरल है।


The roadside shops in many small towns were dominated by ladies selling their stuff like vegetables, grocery items, jewellery & running tailoring shops. Just like any other village everyone was excited because this is the only day in a week where everyone can see something happening. Otherwise life is very simple in the rural regions.

A busy market and vegetable seller - Mandla region

सब्जी कि दुकान और महिला - मंडला परिसर


प्रत्येक महिला ने संस्कृति के अनुसार स्थानीय आभूषण पहनना सुनिश्चित किया। और इस तरह मुझे लगता है कि कोई स्थानीय संस्कृति को गावोंमे देख सकता है। आधुनिक चलन अभी तक लोगों को हर दूसरे शहर की महिला के समान नहीं बना पाया है। अभी भी यहांपे चांदी और सोने के आभूषणों को पारंपरिक डिजाइनों के साथ देख सकते हैं।


Every lady made sure to wear local jewellery as per the culture. And this way I feel one can see the local culture. Modern trends are yet to make people similar like every other city woman. Till now we can see silver and gold jewellery with the traditional designs.

A lady tailor in busy market - Mandla region

व्यस्त बाजार और लेडी टेलर - मंडला परिसर


लेकिन कपड़े का बाजार निश्चित रूप से सूरत के बड़े व्यापारियोंसे प्रभावित है। पावर लूम के ज्यादातर कपड़े लोगों के ऊपर देखे जा सकते हैं। यहांपे साड़ी को अलग अलग तरह से पहना जाता है। मैंने देखा कि कुछ औरतें नौ गज की साड़ी कुछ अलग तरह से पहनती हैं जो महाराष्ट्र कि नौवारी साडीसे मिलती जुलती है। लेकिन यह प्रकार अभी भी महाराष्ट्र के करीबके इलाकों में है।


But the clothing market is definitely affect from the big time players from Surat. Most of the power loom clothing can be seen on people. Saree are worn differently. I saw some ladies wearing Nine yard saree in a bit different way. But it is still in the areas closer to Maharashtra.

Gypsy women doing their daily work. Chitrakoot region

अपने कार्य में व्यस्त बंजारा महिलायें - चित्रकूट परिसर


स्थानीय बैगा और गोंड आदिवासी महिलाएँ चांदी या रंगीन मोतियों के अलग-अलग आभूषण पहनती हैं। जो उन्हें बाकी लोगों से अलग करता है। यहां तक ​​कि टैटू बनवाना भी अलग है। ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं बहुत मेहनत करती हैं। लेकिन घनिष्ट समाज जीवन और जिनेका दृष्टिकोण बहुत सरल है। और यह मैंने उनके चेहरों पर देखा।


Local Baiga and Gond tribal women wear distinct jewellery either of silver or colourful beads. That makes them stand out from the rest of the people. Even the tattooing is distinct. Women in rural area works very hard. But the close knit society and attitude towards the life is very simple. And that I saw reflected on their faces.

A Baiga tribal woman in the village fair - Kanha National Park region

बाजारमे बैगा आदिवासी महिला - कान्हा राष्ट्रीय उद्यान परिसर


आप कह सकते हैं कि यह मेरे लिए उस यात्रासे एक सीख थी । हम समभाव की बात करते हैं लेकिन जब हम इतनी सारी महिलाओं और लड़कियों से मिले तो हर एक की एक अलग कहानी थी और उनके चेहरे पर एक अनोखी मुस्कान थी।

प्रकृति की घड़ी उनके जीवन पर हावी है। लेकिन मेहनती उन्हें अधिक स्वस्थ और लचीला बनाता है।


You can say that it was a takeaway from that trip to me. We talk about equanimity but when we met so many women and girls each one had a different story and a unique smile on their faces.

A farm woman doing her farm duties - Bandhavgadh National Park region

खेतीबाडी का कार्य करती हुई महिला - बांधवगढ राष्ट्रीय उद्यान परिसर


मीडिया गांवों के बारे में क्या बताता है और हम व्यक्तिगत रूप से क्या देखते हैं, यह अलग हो सकता है। हम दूसरों के बारे में क्या सोचते हैं और वे हमें क्या कहानी सुनाते हैं, यह निश्चित रूप से अद्वितीय होगा। जिसे सुनने के लिए हमें खुले दिल और कान की जरूरत है।


The clock of the nature dominates their lives. But hardworking makes them more healthy and resilient. What media tells about villages and what we see in person can be different. What we think about others and what story they tells us will be definitely unique. What we need an open heart and ear to listen.

A young lady in yellow saree in the village fair. ( Kanha National Park region )

पिली साडीमें एक युवती - कान्हा राष्ट्रीय उद्यान परिसर


मध्य प्रदेश के दूरदराज के हिस्से एक अनूठा और शांतिपूर्ण अनुभव प्रदान कर सकते हैं। यह जीने के एक अलग तरीके की सराहना करने और प्रकृति से जुड़ने का अवसर है। मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि यात्रियों को अनुभव को अपनाना चाहिए और लोगों से जुड़ना चाहिए । ताकी हम भारतीय स्त्रियोंके कारण असली भारतसे मिल सके ।


Remote parts of Madhya Pradesh can offer a unique and peaceful experience. It is an opportunity to appreciate a different way of living and connect with nature. I personally feel traveler should embrace the experience and genuinely connect with the people. So we can experience the real Bharat through Bharatiya women.

A picture with new friends wearing traditional silver jewellery - Kanha National Park region

एक याद : पारंपरिक अलंकार पेहने हुए नये सखियोंके साथ - कान्हा राष्ट्रीय उद्यान परिसर



Writeup : Yogesh Kardile

Photography : Raginee | Yogesh Kardile

All rights reserved.

Recent Posts

See All

1 comentario


parkar.navid29
06 abr 2023

You both are doing great work Raginee Mam & Yogesh Sir ❤️❤️

Me gusta
bottom of page